Kahin Bekhayal Hokar

A very nice ghazal from the Dev Anand film Teen Devian (1965). Music is by Sachin Dev Burman. We see one of the teen devian- Simi with Dev in the clip. 

The lyrics are by Majrooh Sultanpuri. I had posted earlier Aise to na dekho where Dev appears with another devi, Nanda, and in the duet Ae yaar meri tum bhi ho ghajab where Dev is with Kalpana (not his wife Kalpana Kartik).





कहीं बेख़याल होकर, यूँ ही छू लिया किसी ने - २
कई ख़्वाब देख डाले, यहाँ मेरी बेख़ुदी ने
कहीं बेख़याल होकर

मेरे दिल में कौन है तू, कि हुआ जहाँ अन्धेरा
वहीं सौ दिये जलाये, तेरे रुख़ की चाँदनी ने
कई ख़्वाब, कई ख़्वाब देख डाले यहाँ मेरी बेख़ुदी ने
कहीं बेख़याल होकर

कभी उस परी का कूचा, कभी इस हसीं की महफ़िल
मुझे दर-ब-दर फिराया, मेरे दिल की सादग़ी ने
कई ख़्वाब, कई ख़्वाब देख डाले यहाँ मेरी बेख़ुदी ने
कहीं बेख़याल होकर

है भला सा नाम उसका, मैं अभी से क्या बताऊं
किया बेकरार अक्सर, मुझे एक आदमी ने
कई ख़्वाब, कई ख़्वाब देख डाले यहाँ मेरी बेख़ुदी ने
कहीं बेख़याल होकर

अरे मुझपे नाज़ वालो, ये नयाज़मन्दियां क्यों
है यही करम तुम्हारा, तो मुझे न दोगे जीने
कई ख़्वाब, कई ख़्वाब देख डाले यहाँ मेरी बेख़ुदी ने
कहीं बेख़याल होकर



27dec12

No comments

Popular Posts

Search Fav Song

Powered by Blogger.